Auxiliary Movements In Hindi

Auxiliary Movements

FLEXIONजब हम JOINT पर दो हड्डियों के बीच कोण को कम करते है कि शरीर के अंग के बीच कोण कम करने के लिए संदर्भित करता हैAUXILIARY MOVEMENTS IN HINDI

HYPERFLEXION यह एक मांसपेशी है कि शरीर की सामान्य सीमा से परे फैली के फ्लेक्सियन गति है. यह गति जोड़ के कोण को कम करके दो सन्निकट अस्थियों को एक साथ लाती है.

FLEXION AND EXTENSION

 

EXTENSION जब हम एक संयुक्त या विस्तार में दो हड्डियों के बीच कोण में वृद्धि एक आंदोलन है कि दो शरीर के अंग के बीच कोण में वृद्धि को संदर्भित करता है.

HYPEREXTENSION यह अपनी सामान्य सीमा से परे एक संयुक्त का विस्तार है, हाइपर विस्तारित होने की स्थिति.

उदाहरण – 

वजन उठाने से जोड़ पर कोण कम हो जाता है।

-कम वजन संयुक्त और विस्तार पर कोण में वृद्धि.

DORSI FLEXION AND PLANTER FLEXION

टखने के जोड़ के संबंध में संशोधित फ्लेक्सियन

DORSI FLEXIONजब हम निचले पैर या पिंडली जो पैर और पैर के डोर्सम के बीच कोण कम करने के लिए ऊपर की तरफ ले जाते है.

PLANTAR FLEXION जब हम पैर या पिंडली जो पैर के पीछे और पैर के एकमात्र के बीच कोण कम करने के लिए पैर apposite के शीर्ष लाने के लिए.

ABDUCTION  AND  ADDUCTION

ABDUCTION मिडलाइन से दूर किसी अंग को ले जाना अंगों या शरीर के अन्य अंगों की कोई गति होती है जो शरीर के मध्य रेखा से दूर खींचती है.।

ADDUCTION शरीर की मध्य रेखा की ओर हाथो की गति है या adduction शरीर के अंग की ओर मध्यम रेखा की ओर ले जाना है.जब कोई व्यक्ति अपने कंधो से पुरे हाथ को बहार की तरफ ले जाने के बाद उन्हें पुनः उन्हें अपने पक्षों में नीचे लाता हैं तो इसे ऐडक्शन कहा जाता है।

EXAMPLE

ABDUCTION मिडलाइन से दूर ले जाने के लिए

ADDUCTION मिडलाइन की ओर जोड़ने के लिए

उदाहरण-जंपिंग जैक के दौरान हाथ और पैर की गति।

CIRCUMDUCTION जब अंगो की अविराम गोलाकार में गति करते है उसे CIRCUMDUCTION कहते है जिसमें कोई रोटेशन शामिल नहीं होता है,

उदाहरण – अपनी तर्जनी के साथ हवा में एक काल्पनिक चक्र बनाना, उंगली की नोक शंकु के आधार का प्रतिनिधित्व करते हैं,

रोटेशन /ROTATION

ROTATION:-अपनी अक्ष पर एक हड्डी की गति है जिसमें कुछ उदा. एक हड्डी या एक पूरे अंग, pivots या एक लंबे अक्ष के चारों ओर घूमती है।

 PRONATION AND SUPINATION


कलाई और हाथ के सापेक्ष क्रिया

PRONATION हथेली को जमीन की तरफ या पेरो की तरफ किया जाता है इसमें हमे अपने हथेली का पिछले सिरा दिखाई देता है.

SUPINATION हथेली को आसमान की दिशा किया जाना SUPINATION कहलाता है. जैसे आप चीनी का एक कटोरा पकड़ते है

AVERSION AND INVERSION

ये क्रिया है जो टखने के जोड़ पर होता है, जिसमे पैर को अंदर और बहार की तरफ मोड़ा जाता है एवं दोनों ही क्रिया को अलग नामों से जाना जाता है जो इस प्रकार है :

INVERSION – इसमें पैर के तलवो को शरीर के अंदर के तरफ मोड़ना INVERSION कहलाता है

EVERSION इस क्रिया में अपने पैर के तलवो को बाहर के तरफ करने पर यह EVERSION कहलाता

Read More 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!